आकाश चोपड़ा के अनुसार विराट कोहली के कप्तानी के दौरान भारतीय टीम उतनी अक्रामक नहीं थी जो उनसे उम्मिद की थी

विराट कोहली की कप्तानी के दौरान भारतीय टीम ने टेस्ट क्रिकेट में काफी शानदार प्रदर्शन किया है उनका गिनती दुनिया के सबसे बेहतर बल्लेबाज में होता है

भारतीय टीम के पूर्व ओपनिंग बल्लेबाज आकाश चोपड़ा ने अब टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली की कप्तानी के कार्यकाल को लेकर अपने एक बयान में कहा कि टीम उस समय मैदान पर उतना आक्रामक नहीं दिखाई दी जितनी उससे उम्मीद की गई थी विराट कोहली में लगातर भारतीय टीम सिकुड़ाला अपने नाम करने में सफल हो रही है

IND vs ZIM : भारत के लिए जिम्बाब्वे दौर पर बुमराह शमी बनेंगे ये खिलाड़ी ! विरोधियों को करते हैं तहस नहस

यूट्यूब पर अपने चैनल पर शेयर किए गए एक वीडियो में आकाश चोपड़ा ने भारतीय टीम के कई कप्तानों को लेकर बात की जिसमें उन्होंने उनकी कप्तानी के तरीके पर बोला भारतीय टीम के पूर्व कप्तान विराट कोहली एक ऐसे बल्लेबाज़ हैं जिन्का ख़्वाब दुनिया भर में रहता है वाह अकेले अपने बांध पर शुद्ध मैच को पलटने का बांध रखते हैं और उन्होन ऐसा काई मुकाबले में किया भी है इस दौरान चोपड़ा ने कोहली की कप्तानी स्टाइल को लेकर कहा कि, कोहली का हमेशा ध्यान इस चीज पर होता था, कि उन्हें यह चीज करनी है, ताकि वह एक उदाहरण बना सके। कोहली का मैदान पर उनके चेहरे का हाव भाव देखने पर वह काफी आक्रामक दिखाई देते थे, विराट कोहली अकेले अपने बांध पर शुद्ध मैच को विपत्तियों से छिन्ने में लगातर सफल रहे हैं कभी भी पीछे नहीं हटेंगे। लेकिन टीम उस तरह से आक्रामक नहीं दिखाई देती थी।
चोपड़ा के अनुसार टीम कप्तान कोहली को अच्छी तरह से नहीं समझ सकी

Asia Cup 2022 : एशिया कप में भारत के लिए सबसे ज्यादा रन है तेंदुलकर के बाद जाने विराट और रोहित ने बनाए कितने रन

आकाश चोपड़ा ने आगे कहा कि, यह काफी रोचक बात है कि कप्तान के तौर पर कोहली तो काफी आक्रामक दिखाई देते थे, विराट कोहली ने भारत को काई मुकबले बिटया है ये भारतीय टीम के कफी सफल कप्तान रहे हैं लेकिन रोहित शर्मा की बात की जाए तो विराट कोहली से भी अब निकल चुके हैं। लेकिन उस मुकाबले में टीम उतना आक्रामक नहीं दिख पाती थी। इसके कई कारण हो सकते हैं। वह कई बार सोच को लेकर बात करते थे, लेकिन हमने एक ही टेस्ट मैच में पुजारा को 2 बार रन आउट होते हुए भी देखा है हलंकी टेस्ट की बात की जाए तो विराट कोहली कफी सफल कप्तान रहे हैं टेस्ट मैच में भारत नंबर वन पोजीशन प्रति लगातर बरकर है जिससे यह समझा जा सकता है कि सोच को लेकर बाकी खिलाड़ी उस चीज को सही तरह से नहीं समझ सके।

विराट कोहली बतौर कप्तान अक्सर टेस्ट क्रिकेट को लेकर यह बात करते हुए दिखाई देते थे, कि भारतीय बल्लेबाजों को रन बनाने की सोच के साथ मैदान पर खेलना चाहिए

रोहित शर्मा भारतीय टीम के काफ़ी सफल कप्तान सबित हो सकते हैं

हालांकि चोपड़ा ने कोहली की कप्तानी को लेकर जो एक अच्छी बात कही वह यह कि, टेस्ट क्रिकेट में विराट का 5 गेंदबाजों के साथ खेलना सच में सभी के लिए एक अलग चीज थी रोहित शर्मा के कप्तान में भारतीय टीम लगार सिकुड़ाला अपने नाम करने में सफल हो रही है जिसमें साफतौर पर उनकी सोच आक्रामक कही जा सकती है। लेकिन क्या टीम उतना आक्रामक थी यह एक बिल्कुल ही अलग बहस हो सकती है हलंकी टीम इंडिया के खिलाड़ियों को लेकर कफी चर्चा चल रही है कि सबसे बड़ा करण है समय सब खिलाड़ी कफी बेहतर फॉर्म में नजर आ रहे हैं

भारतीय टीम में काफ़ी बेहतर खिलाड़ी निकलकर सामने आ रहे हैं

वहीं चोपड़ा के अनुसार इसी चीज की कमी लिमिटेड ओवर्स और इंडियन प्रीमियर लीग में भी उनकी कप्तानी में देखने को मिली। आकाश चोपड़ा ने आगे कहा कि, टीम में एक से एक शानदार गेंदबाज थे, आकाश चोपड़ा का मनाना है की भारतीय टीम में कफी सफल गेंदबाज़ शमील है जो- सब नंबर मैच को पलट सकते हैं लेकिन मैने किसी की सोच को लिमिटेड ओवर्स क्रिकेट में उतना आक्रामक नहीं देखा। कोहली एक आक्रामक खिलाड़ी लेकिन टीम उनकी कप्तानी में उस तरह से आक्रामक नहीं दिखी।

More than 400 attended Vivekananda Kendra’s Young India know Thyself orientation

विवेकानंद केंद्र के Young India Know Thyself ओरिएंटेशन में 400 से अधिक युवाओं ने भाग लिया The sixth season of Young India Know Thyself: A...

विवेकानंद केंद्र दिल्ली शाखा ने मनाया “साधना दिवस” Vivekananda Kendra Delhi Branch Celebrated “Sadha Diwas”

विवेकानंद केंद्र, कन्याकुमारी की दिल्ली शाखा ने पिछले रविवार को माननीय एकनाथ जी रानडे की जयंती को "साधना दिवस" के रूप में मनाया। श्री...
Harsh Pandeyhttps://UntoldTruth.in
Hii, I'm Harsh Pandey ....

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

BEST DEALS

Most Popular