गणेशोत्सव : मुंबई के सिद्धिविनायक मंदिर में समारोह को COVID-19 के कारण रोकने के लिए धारा 144 लागू करी

शहर भर में गणेश चतुर्थी समारोह का आयोजन बहुत धूम धाम से किया गया क्योंकि मुंबई पुलिस ने कोरोना वायरस के कारण 10-19 सितंबर तक (सीआरपीसी) की धारा 144 लागू करी

मुंबई: मुंबई में कोविड 19 के सबसे ज्यादा केस सामने आया है जिसके चलते COVID-19 महामारी महाराष्ट्र के मुंबई में सद्धिविनायक मंदिर में इस साल गणेश चतुर्थी का उत्सव नहीं मनाया जायेगा

पुजारियों दुवारा सुबह की आरती जायगी जिसका सीधा प्रसारण आधिकारिक वेबसाइट और फेसबुक पेज पर कर दिया जायेगा पूरे दिन, मंदिर के अधिकारी लाइव सत्र के साथ भक्तों को मंदिर में चल रहे उत्सवों से अवगत करेंगे शहर भर में समारोह की धूम धाम है क्योंकि मुंबई पुलिस ने वायरस के चलते संचरण रोका है 10-19 सितंबर से (सीआरपीसी) की धारा 144 लागू कर दी थी। मुंबई पुलिस आयुक्तने गणपति के जुलूस की अनुमति नहीं दीएक जगह पर पांच से अधिक व्यक्ति इकट्ठा नहीं हो सकते धारा 144 के चलते

भक्तों को मंदिर परिसर के अंदर जाने की अनुमति नहीं है। पुजारी और आवश्यक कर्मचारी ही मंदिर में होंगे सोशल मीडिया पेजों के माध्यम से श्री सिद्धिविनायक के ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था की है,

महामारी से पहले, त्योहार मुंबई और महाराष्ट्र के अन्य हिस्सों में बहुत धूमधाम और धूमधाम से मनाया जाता था,

लाइव प्रसारण में कुछ पुजारियों और मंदिर के अधिकारियों को आरती करते हुए नजर आयगे और धार्मिक भजन गाते हुए भी सुना जा सकता है क्योंकि उन्होंने भगवान से उनका आशीर्वाद मांगा था।

गणेश चतुर्थी का हिंदू त्योहार जिसे विनायक चतुर्थी के नाम से भी जाना जाता है, नई शुरुआत के भगवान गणेश को समर्पित है।

Related posts

Leave a Comment