जोधपुर सिलेंडर ब्लास्ट, 2 बच्चों सहित अब तक 5 मौत: दूल्हा तैयार हो रहा था तभी धमाका; 20 परिवारों के लोग झुलसे, गीत गाती महिलाएं जलीं

जोधपुर सिलेंडर ब्लास्ट, 2 बच्चों सहित अब तक 5 मौत: दूल्हा तैयार हो रहा था तभी धमाका; 20 परिवारों के लोग झुलसे, गीत गाती महिलाएं जलीं जोधपुर में शादी के घर में हुए सिलेंडर ब्लास्ट में आज सुबह इलाज के दौरान तीन महिलाओं की मौत हो गई। गुरुवार को हुए इस हादसे में अब तक दो बच्चों सहित कुल 5 लोगों की जान चली गई है, जबकि 40 से ज्यादा लोगों की हालत गंभीर है। सभी का जोधपुर के महात्मा गांधी हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है।

डॉक्टर एसएन मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल दिलीप कच्छावा ने हादसे में गंभीर रुप से झुलसी तीन महिलाओं धापू कंवर, कंवरू और चंदन कंवर की आज हुई मौत की पुष्टि की है। इस भीषण हादसे में करीब 20 परिवारों के 60 से ज्यादा लोग झुलसे हैं। वहीं, दो घरों में शादियों की खुशियां मातम में बदल गई हैं। जब ब्लास्ट हुआ उस वक्त दूल्हा तैयार हो रहा था । जोधपुर से करीब 110 किलोमीटर दूर शेरगढ़ तहसील के भूंगरा गांव में यह हादसा हुआ। यहां एक गांव में एक के बाद एक पांच सिलेंडर ब्लास्ट हुए और पूरा गांव दहल गया। जले हुए लोगों को जब जोधपुर के हॉस्पिटल लाया गया तो उन्हें देखकर हर कोई सिहर गया। पूरे हॉस्पिटल में इतने घायलों को देखकर अफरा-तफरी मच गई। हादसे वाले गांव में कल से मातम पसरा हुआ और आगे और हादसे के निशान दूर से ही नजर आ रहे हैं। शादी का सामान राख बन चुका है। सिलेंडर ब्लास्ट के बाद जो घर का वीडियो सामने आया है वो दहलाने वाला है।

जिस समय हादसा हुआ उस दौरान दूल्हा सुरेंद्र सिंह और उसके परिवार के लोग बारात की तैयारी कर रहे थे। महिलाएं मंगल गीत गा रही थी। बहनें इंतजार कर रही थीं कि कब उनका भाई शादी के फेरों के लिए रवाना होगा। पूरा गांव परिवार की खुशी में शामिल होने आया हुआ था। तभी अचानक एक गैस सिलेंडर में लीकेज से आग भड़कती है और देखते ही देखते पांच सिलेंडर ब्लास्ट हो जाते हैं। इस ब्लास्ट में सुरेंद्र सिंह का पूरा घर तबाह हो गया। घर में जो टैंट लगाया था वह भी जल गया। परिजनों ने बताया कि आंगन में बैठी महिलाओं पर एक गैस सिलेंडर आकर गिरा। ऐसे में कई महिलाएं झुलस गईं। दुल्हन के लिए जो शादी का जोड़ा रखा था वह भी इस आग में जल गया। अचानक घर से चीख-पुकार सुन आस-पास के लोगों पहुंचे तो हालात देख वे भी हैरान हो गए। जैसे-तैसे घर में रखे दूसरे सिलेंडरों को बाहर निकाला गया। अंदर जो महिलाएं व बच्चियां थी उन्हें भी बाहर लेकर आए और हॉस्पिटल पहुंचाया।

दूल्हे की बहन गंवरी कुंवर ने बताया घर में खुशी का माहौल कैसे पलभर में गम में बदल गया…

दो दिन से चल रहे थे फंक्शन

मैं दो दिन पहले ही अपने ससुराल भांडू से भूंगरा आई थी। गुरुवार को बारात नजदीक के गांव खोखसर जानी थी। घर रिश्तेदारों से भरा हुआ था। बारात निकलने से पहले की रस्में की जा रही थीं। सभी बारात में जाने के लिए तैयार हो रहे थे। महिलाएं बारात जाने से पहले गीत गा रही थी।

मैं तैयार होने के लिए पास के घर में गई थी। इसी दौरान तेज धमाकों के साथ आवाज आने लगी। गंवरी ने बताया कि जब दौड़कर भाई के घर आई तो देखा की घर आग की लपटों से घिर है और महिलाओं व बच्चों के चिल्लाने की आवाज आ रही है।

गंवरी ने बताया कि घर में उनकी मां और भाभी थे जो इस हादसे का शिकार हो गए। वहीं, पड़ोसी प्रमोद ने बताया कि घर में तीन-चार दिन से फंक्शन चल रहा था। सभी बारात को लेकर तैयारी कर रहे थे, लेकिन हादसा हुआ कुछ समझ नहीं आया। घायलों को अस्पताल लेकर शेरगढ़ पहुंचे थे। वहां से इन्हें जोधपुर लेकर आया हूं। दोपहर में बारात जानी थी, लेकिन इससे पहले ही हादसा हो गया। उन्होंने बताया कि शादी के लिए करीब 20 सिलेंडर लाए गए थे।

स्टोर में रखे सिलेंडरों में लीकेज फिर ब्लास्ट परिवार

के सदस्यों के अनुसार सुबह से गैस रिसाव की गंध आ रही थी। हलवाई ने भट्टी के पास के सिलेंडर तो चैक किए, लेकिन स्टोर के सिलेंडर चैक करना भूल गया। धीरे-धीरे गैस आंगन तक पहुंच गई और जैसे ही गैस भट्टी तक पहुंची तो चारों ओर आग फैल गई। भट्टी के पास लगे सिलेंडर ने आग पकड़ ली और ब्लास्ट हो गया। जिस समय हादसा हुआ उस समय घर का आंगन महिला-पुरुषों से भरा था और बारात निकलने की तैयारी हो रही थी। आग इतने तेजी से फैली कि महिलाओं की साड़ियां उनसे बुरी तरह चिपक गईं।

12 साल के करण सिंह की

मां, दादी और बहन तीनों जल गए दूल्हे सुरेन्द्र के घर के पड़ोस में रहने वाला 12 वर्षीय करण सिंह ने बताया कि वह बाहर खेल रहा था सुरेन्द्र के घर में मां उसकी बहन व दादी थी, अचानक गैस की टंकी फटी और लोग झुलस गए। मां, दादी व बहन के साथ वह भी शेरगढ़ के अस्पताल गया और उनके साथ ही जोधपुर आया ।

73 सालों में पहली बार मनाया जाएगा Supreme Court का स्थापना दिवस

शनिवार यानी आज 4 फरवरी को पहली बार भारत के सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) का स्थापना दिवस मनाया जाएगा।इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सिंगापुर के न्यायाधीश जस्टिस सुंदरेश मेनन को बुलाया गया है।

मशहूर प्लेबैक सिंगर वाणी जयराम का निधन, हाल ही में पद्म भूषण से किया गया था सम्मानित

मशहूर प्लेबैक सिंगर वाणी जयराम का निधन, हाल ही में पद्म भूषण से किया गया था सम्मानित

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

BEST DEALS

Most Popular