तारिख दर तारिख नहीं अब एक माह से कम समय में न्याय

-कानून व्यवस्था का योगी मॉडल, महिला संबंधी अपराधों और गंभीर मामलों में शासन से लेकर जिला स्तर तक हो रही माॅनिटरिंग योगी आदित्यनाथ जी के कार्यकाल में उत्तर प्रदेश में नए-नए नियम लाए जा रहे हैं जिनसे लोगन को थोड़ी सी भी समस्या ना हो

– योगी आदित्यनाथ जी का कहना है की 1 माहिने के अंदर कोई भी तारीख खतम की जाए

लखनऊ, 04 अक्टूबर (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अंतर विभागीय समन्वय से अदालतों में तारीख दर तारीख की प्रथा अब बदल रही अब लोगों को न्याय के लिए कफी लम्बे समय का इंतजार नहीं करना होगा योगी आदित्यनाथ जी का उत्तर प्रदेश में नागरिकों को थोड़ी सी भी समस्या नहीं होगी खासकर, महिला संबंधी गंभीर अपराधों और प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन अगेंस्ट

योगी आदित्यनाथ जी के नेत्रत्व में उत्तर प्रदेश कफी विकसित हुआ।

सीएम योगी के निर्देश पर पहली बार प्रदेश में महिला संबंधी अपराधों और गंभीर मामलों में शासन से लेकर जिले स्तर तक माॅनिटरिंग की जा रही है थोड़ी सी भी गलत नजर आने पर तत्काल साजा दिया जा रहा है इसके लिए डीजीपी मुख्यालय, अभियोजन निदेशालय और शासन स्तर से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हर हफ्ते समीक्षा की जा रही है।

बलिया मैं बढेगी सुविधायें सीएम योगी ने दयाशंकर सिंह और मुख्य सचिव को दी जिम्मेदारी

पुलिस ने गावाहों को सही समय पर अदालत में प्रस्‍तुत कराया

पुलिस ने कम समय में न्याय दिलाने के लिए विवेचना और वैज्ञानिक साक्ष्यों की दृष्टि से मजबूत मामलों को चिह्नित कर, उनमें गवाहों और प्रदर्शों को समय पर अदालतों में प्रस्तुत कराया पुलिस की जिमेदारी रहती है की गुनाहगारो को और सभी कागज था भेजा को न्यायलय में प्रस्तुत की जाए थ ही जिलों में जिला जज की अध्यक्षता में मॉनिटरिंग सेल की बैठक के अलावा जिलों की हर महीने होने वाले अपराध और अभियोजन गोष्ठी के माध्यम से समयबद्ध कर कराया गया के महाने भर में होने वाले सारे अप्रध उसी माहिन में उसका निवारण हो जाए जिससे लोगन को जल्दी से न्याय मिल साकी

जिस कारण प्रदेश में रिकार्ड 97.8 प्रतिशत समन तामील हुए उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ जी के कार्यकाल में कफी तेजी से हर फैसला सुना जा रहा है

महिला संबंधी अपराधों में 4200 अपराधियों को मिली सजा

अंतर विभागीय समन्वय से पिछले छह माह में महिला संबंधी अपराधों में 4175 अपराधियों को सजा मिली है महिला संबंध किसी भी मामले की करवायी जल्‍द से जल्‍द होनी चाहिए । पॉक्सो न्यायालयों से 1438 अपराधियों को सजा हुई है। इसमें 206 को आजीवन कारावास, 513 को 10 वर्ष से अधिक और 719 को मिली 10 वर्ष से कम की सजा हुई है

योगी आदित्यनाथ जी का मनाना है की गुनहगों को जल्दी से जल्दी मिलानी चाहिए ऐसा ना हो की कचहरी के चक्कर में गुनहगार बन जाए इसके अलावा महिलाओं के खिलाफ गंभीर अपराधों में 2737 अपराधियों को सजा हुई है। इसमें 250 अपराधियों को आजीवन कारावास, 528 को 10 वर्ष से अधिक कारावास और 1959 को 10 वर्ष से कम की सजा मिली है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री कफी एलर्ट नजर आ रहे हैं

महिला संबंधी अपराधों में सजा दिलाने में यूपी नंबर वन

एनसीआरबी की ओर से हाल ही में जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक महिला संबंधी अपराधों में सजा दिलाने में पूरे देश में उत्तर प्रदेश वर्ष 2021 में 59.1 प्रतिशत के साथ पहले पायदान पर है योगी आदित्यनाथ जी के कार्यकाल में उत्तर प्रदेश में कफी ज्यादा विकास हुआ है हर तरह से उत्तर प्रदेश कफी आगे निकल रहा है

गोरखपुर में हेल्थ ATM का CM योगी ने किया शुभारंभ: 3 महीने में प्रदेश के 4600 स्वास्थ्य केंद्रों पर लगेंगे हेल्थ ATM, एक सैंपल में होगी 59 जांचें

मिशन शक्ति अभियान के तीन चरणों में कुल 6211 अपराधियों को सजा दिलाई गई है। इसमें 36 अपराधियों को फांसी, 1296 को आजीवन कारावास, 1203 को 10 वर्ष या 10 वर्ष से अधिक सजा और 3676 को 10 वर्ष से कम की सजा दिलाई गई है दुनिया भर में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के निर्णय की चर्चा हो रही है

73 सालों में पहली बार मनाया जाएगा Supreme Court का स्थापना दिवस

शनिवार यानी आज 4 फरवरी को पहली बार भारत के सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) का स्थापना दिवस मनाया जाएगा।इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सिंगापुर के न्यायाधीश जस्टिस सुंदरेश मेनन को बुलाया गया है।

मशहूर प्लेबैक सिंगर वाणी जयराम का निधन, हाल ही में पद्म भूषण से किया गया था सम्मानित

मशहूर प्लेबैक सिंगर वाणी जयराम का निधन, हाल ही में पद्म भूषण से किया गया था सम्मानित
Harsh Pandeyhttps://UntoldTruth.in
Hii, I'm Harsh Pandey ....

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

BEST DEALS

Most Popular