नसीमुद्दीन बोले- पैसा लेकर टिकट देती हैं मायावती: मैं उनको जितना जानता, उतना वो खुद को नहीं जानती

नसीमुद्दीन बोले- पैसा लेकर टिकट देती हैं मायावती: मैं उनको जितना जानता, उतना वो खुद को नहीं जानती यूपी कांग्रेस के प्रांतीय अध्यक्ष नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने शुक्रवार को बसपा सुप्रीमो मायावती पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ” बसपा पैसे लेकर टिकट देती है। मैं जितना बहनजी को जनता हूं, उतना तो बहनजी भी अपने आपको नहीं जानती। वो ट्विटर ट्विटर खेल रही हैं। ट्विटर की जगह मैदान में आओ।”

नसीमुद्दीन ने कहा, ‘दलित और मुस्लिम किसी का बंधवा मजदूर नहीं है।” नसीमुद्दीन सहारनपुर में पार्टी पदाधिकारियों से मिलने पहुंचे थे। उन्होंने फ्रंटल संगठनों, प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से निकाय चुनाव को लेकर चर्चा की।

देश तोड़ने की बात कर रही

भाजपा नसीमुद्दीन ने कहा, “जिन लोगों ने अंग्रेजों का साथ दिया। वह लोग अब कांग्रेस पर उंगली उठाते हैं। भाजपा बस देश तोड़ने की बात करती है। चुनाव आते ही हिंदू, मुस्लिम, जेहाद और मंदिर-मस्जिद की बात करती है। लेकिन, युवाओं, रोजगार और देश की तरक्की की बात नहीं करती है। निकाय चुनाव में कांग्रेस इस बार सफलता हासिल करेगी, लेकिन जीत का समीकरण क्या , होगा, वह अभी नहीं बता सकते हैं। भाजपा भले ही देश तोड़ने की बात कर रही है। इस प्रयास को नाकाम करने के लिए राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हैं। जिससे कांग्रेस को मजबूती मिल रही है।”

कांग्रेस पैसा लेकर टिकट नहीं देती

नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा, ‘कांग्रेस सिद्धांतवादी पार्टी है। किसी से पैसा लेकर टिकट नहीं देती है। कांग्रेस पार्टी चंदा इकट्ठा कर कैंडिडेट की मदद करती है। कांग्रेस ने देश में कुर्बानी दी। कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने देश और पब्लिक के लिए अपने सीने में गोलियां खाई है। ” उन्होंने कहा, “पूर्व पीएम इंदिरा गांधी और राजीव गांधी ने देश के लिए अपने शरीर के टुकड़े करा दिए। देश के इतिहास में बसपा और सपा में स्वतंत्रता सेनानी का नाम नहीं है। देश की आजादी में कोई हिस्सा नहीं है। देश की सेवा सबसे ज्यादा कांग्रेस ने की। देश को बचा सकता है, वह कांग्रेस पार्टी है। ‘

संगठन के कार्यों की समीक्षा करने पहुंचे नसीमुद्दीन

सहारनपुर के कांग्रेस पार्टी कार्यालय पर प्रांतीय अध्यक्ष नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने संगठन के पदाधिकारियों और निकाय चुनाव ‘के दावेदारों के साथ संगठन की समीक्षा की। निकाय चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की। मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि अभी संगठन को मजबूत करना प्राथमिकता है। आज उसी की तैयारी है। निकाय चुनाव में कांग्रेस सफल होगी। सरकार परिसीमन घोषित कर दे, तो संगठन प्रत्याशी तय कर लेगा । लेकिन, अभी जीत के समीकरण बता दिए, तो विपक्षी सतर्क हो जाएंगे।

हक की लड़ाई लड़ रही कांग्रेस कांग्रेस नेता ने कहा,

“कांग्रेस का जाति धर्म की राजनीति से कोई मतलब नहीं है। किसान, मजदूर, मजबूर और महिला सभी की हक की लड़ाई केवल कांग्रेस सड़कों पर उतर कर लड़ रही है। जब से देश और यूपी में भाजपा की सरकार बनी है। जनता परेशान है। हर तरफ हाहाकार मचा हुआ है। सरकारी एजेंसियों का भाजपा दुरुपयोग कर रही है। महंगाई चरम पर है। किसानों को न तो उपज का सही दाम मिल रहा है और न भुगतान । किसान आत्महत्या को मजबूर है।

बेरोजगारी से भुखमरी के हालात हैं। महिलाओं का सम्मान खतरे में है।’

‘मैं प्रभारी हूं, आपके ऊपर भारी बनने नहीं आया हूं’

नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा, ‘आगामी निकाय चुनावों में कांग्रेस के प्रत्येक पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं को ईमानदारी से अपने-अपने कार्यों में जुटना होगा और परिणाम देने होंगे। किसी की भी निष्क्रियता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि जिम्मेदारी न निभाने वाले वाले निष्क्रिय पदाधिकारियों को चुनाव के बाद चिह्नित कर पदमुक्त कर नए लोगों को जिम्मेदारी दी जाएगी। उन्होंने कहा, हमें संगठन को मजबूत करना है। इसके लिए ईमानदारी जरूरी है। मुझे यहां प्रभारी बनाकर भेजा गया है। कोई भी मुझे भारी न समझे। जिसकी जो समस्या है, वह फोन या फिर मिलकर मुझे बता सकता है।’

73 सालों में पहली बार मनाया जाएगा Supreme Court का स्थापना दिवस

शनिवार यानी आज 4 फरवरी को पहली बार भारत के सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) का स्थापना दिवस मनाया जाएगा।इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सिंगापुर के न्यायाधीश जस्टिस सुंदरेश मेनन को बुलाया गया है।

मशहूर प्लेबैक सिंगर वाणी जयराम का निधन, हाल ही में पद्म भूषण से किया गया था सम्मानित

मशहूर प्लेबैक सिंगर वाणी जयराम का निधन, हाल ही में पद्म भूषण से किया गया था सम्मानित

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

BEST DEALS

Most Popular