भारत और चीन के बीच WMCC की बैठक, सीमा पर तनाव घटाने के उपायों पर होगी बात

भारत और चीन के सैन्य कमांडर का वापस मिलने पर विचार को मिले थे.

भारत और चीन के बीच नियंत्रण रेखा पर बीते एक साल से अधिक वक्त से जारी गतिरोध सुलझने का नाम ही नहीं लेरा है

भारत और चीन के बीच शान्ति कई हफ्तों से रुकी हुई है. .

हॉटस्प्रिंग और गोगरा में मई के बाद से चीन ने अपने सैनिकों को आगे बढ़ाया लेकिन अब तकवापस नहीं हुवे . विदेश मंत्रालय अरिंदम बागची ने कहा था कि आमने-सामने की मूडत्भेद्द खत्म करने के लिए तनाव घटाने के उपायों पर दोनों पक्ष काम करे

The mystery behind claims of India-China clash at Naku La, Sikkim | ORF

ब्राजील,रूस,भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका के समूह ब्रिक्स की अध्यक्षता भारत के पास है. ऐसे में भारत को सितंबर में ब्रिक्स शिखर सम्मेलन की मेजबानी करनी है अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे और भागीदार के तौर पर अन्य नेताओं के साथ चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी मौजूद रहेंगे.

चीन ने 9 अप्रैल को सैन्य कमांडर स्तर वार्ता में हॉटस्प्रिंग और गोगरा इलाकों से अपनी सैन्य फौज को हटने से माना कर दिया था भारत ने भी अपनी फौजी सेनिको को वापस नहीं लिया

दोनों देशों के बीच फरवरी में बातचीत केबाद पैंगोंग झील के उत्तर व दक्षिणी इलाकों से दोनों पक्षों ने अपनी सैन्यहटा ली लद्दाख में फैली नियंत्रण रेखा के सैन्य असहमति बरकरार हैं. हॉटस्प्रिंग और गोगरा में मई के बाद से चीन ने अपने सैनिकों को आगे बढ़ाया लेकिन अब तकवापस नहीं हुवे . विदेश मंत्रालय अरिंदम बागची ने कहा था कि आमने-सामने की मूडत्भेद्द खत्म करने के लिए तनाव घटाने के उपायों पर दोनों पक्ष काम करे

India 'ready to let China keep Aksai Chin' if neighbour country drops claim  to Arunachal Pradesh | Daily Mail Online

देपसांग इलाके में भी चीनी सौनिकों की हलचल महसूस करी गयी अप्रैल 2020 से पहले कीसामने िस्थित में लौटने के लिए नियंत्रण रेखा पर न चीन के सैनिकहलचल बंद करने को तैयार है . शान्ति की पहले जैसे सामान्य िस्थति के लिए सैन्य मौजूदगी घटानी होगी

Related posts

Leave a Comment