मध्य प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर (डेल्टा प्लस) के कई मरीज सामने आये

कोरोना का डेल्टा प्लस वेरिएंट 80 देशों में लोगो को हो चूका है तेजी से यह वर्रियस फैल रहा है. सरकार का कहना है अभी इस वर्रियस से लड़ने के लिये कोविशील्ड और कोवैक्सीन,दोनों ही कारीगर है

मध्य प्रदेश में कोरोना के नए डेल्टा प्लस वेरिएंट के 7 मरीज मिले, दो मरीजों की मौत हो चुकी है.

पिछले कुछ दिनों में कोविड के ऐसे मरीजों मिले जिनमे डेल्टा प्लस वेरिएंट पाया गया इनमें से तीन मरीज भोपाल के थे, दो उज्जैन से और बाकि दो रायसेन व अशोक हैं. कोरोना वायरस का ‘डेल्टा प्लस’ वेरिएंट जिसमे इंसान के फेफड़े सूख जाते है भारत में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान पहचाना गया था.

‘डेल्टा प्लस’ के खिलाफ टीका
मध्य प्रदेश में लोगों को लगाए जा रहे कोविड टीके इस डेल्टा प्लस’ खिलाफ भी कारगर हैं. लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के सचिव मोहम्मद सुलेमान ने कहा राज्य में डेल्टा प्लस वेरिएंट के मरीजों में 3 मरीजों ने पहले से covid वैक्सीन लाग्वारखी थी कोरोना वायरस के इस संक्रमण के बाद अस्पताल में जाके इलाज करवाने की जरूरत नहीं पड़ी उन्होंने घर पर ही अपना ख्याल रखा जिसे वह ठीक होंगे

दिल्ली में डेल्टा प्लस की संक्रामकता सबसे ज्यादा है अन्य देशों में इसका खतरा अभी कम है वेरिएंट के मामलों की तादाद काफी कम है अभी सब लोगो ही परेशान है की यह वर्रियस कितने लोगो के घर की खुशियों को लेकर लेकर जायेगा

Yale to start enrolling young children and pregnant women in COVID-19  vaccine trials - Yale Daily News

Related posts

Leave a Comment