माफिया मुख्तार अंसारी का MLA बेटा अब्बास गिरफ्तार: 12 घंटे की पूछताछ के बाद ED ने की कार्रवाई, छापेमारी में करोड़ों रुपए की बेनामी संपत्ति मिली थी

यूपी के माफिया मुख्तार अंसारी के बेटे और मऊ विधासनभा सीट से विधायक अब्बास अंसारी को ईडी ने गिरफ्तार कर लिया है। अब्बास की गिरफ्तारी ईडी ने 12 घंटे तक चली लंबी पूछताछ के बाद रात लगभग पौने बारह बजे की।

इससे पहले ईडी ने उन्हें पिता मुख्तार अंसारी के खिलाफ चल रहे मनी लॉन्ड्रिंग केस में बयान दर्ज कराने के लिए शुक्रवार सुबह प्रयागराज ऑफिस में बुलाया था। जानकारी के मुताबिक अब्बास अंसारी से करीब 900 सवाल पूछे गए, जिसमें से उन्होंने कई सवालों का जवाब नहीं दिया। ईडी ने अब्बास अंसारी से दो राउंड में पूछताछ की थी।

बेटे, ससुर, साले सहित 3 को भेजा नोटिस

बीते अगस्त में ही ईडी ने मुख्तार अंसारी से संबंधित 12 ठिकानों पर छापेमारी की थी। इस छापेमारी में करोड़ों के लेने देन का पता चला था। अब ईडी ने इस मामले में मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी, ससुर जमशेद रजा, साले अतीफ रजा और लखनऊ के प्रॉपर्टी डीलर शादाब को नोटिस भेजा है। नोटिस में इन लोगों को बयान देने के लिए कहा है। ED ने इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाने से पहले अपना पक्ष रखने के लिए नोटिस भेजा है। नोटिस के बाद ये लोग अपना पक्ष रखने के लिए ED के प्रयागराज दफ्तर में हाजिरी दे सकते हैं।

मऊ के विधायक हैं अब्बास अंसारी

मुख्तार अंसारी बांदा जेल में बंद है। मनी लांड्रिंग की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय ने मुख्तार के बेटे मऊ विधायक अब्बास अंसारी, पत्नी आफ्शा अंसारी के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया था। अब्बास को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिल गई थी। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अब्बास को नोटिस भेजा था। समन जारी होने के बाद अब्बास अपने अधिवक्ता के साथ शुक्रवार को सिविल लाइंस स्थित ईडी कार्यालय पहुंचे थे। यहां पर उनसे करीब 12 घंटे तक पूछताछ हुई थी। वहीं अब्बास अंसारी के अधिवक्ता मो. फारुख ने बताया कि ED व पुलिस विधायक को अपने साथ लेकर चली गई। फिर दोबारा उन्हें ED दफ्तर लाया गया। उन्हें हिरासत में क्यों लिया गया, इसके बारे में कोई जानकारी अधिकारियों की ओर से नहीं दी गई है।

छापेमारी में करोड़ों रुपए की बेनामी संपत्ति का पता चला था

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस छापेमारी में 100 करोड़ से अधिक बेनामी संपत्ति के दस्तावेज मिले हैं। इसके अलावा बड़े पैमाने पर फंड ट्रांसफर के सबूत भी मिले हैं। इसके अलावा मुख्तार अंसारी के नाम पर बिल्डरों द्वारा शत्रु संपत्तियों पर अपार्टमेंट बनाए जाने का खुलासा हुआ है। इस मामले में जुलाई 2021 में ईडी ने FIR दर्ज किया था। इसके बाद बिल्डर दस्तावेजों को दुरुस्त करने में लगे थे और बिजनेस को समेटने की कोशिश कर रहे थे। इस बिल्डर द्वारा दुबई में बड़ा निवेश किए जाने की भी खबर है।

भगोड़ा घोषित था अब्बास अंसारी

लखनऊ पुलिस विधायक अब्बास अंसारी की गाजीपुर स्थित संपत्ति कुर्क को करने के लिए नोटिस चस्पा कर दिया था। लखनऊ की महानगर पुलिस ने अब्बास को भगोड़ा घोषित करने की अर्जी 11 अगस्त को कोर्ट में दी थी। कोर्ट ने अर्जी खारिज करते हुए 25 अगस्त तक उसको पेश करने को कहा था, लेकिन वह पेश नहीं हुआ, जिसके बाद उसे भगोडा घोषित कर दिया गया था।

लखनऊ, गाजीपुर और मऊ में दर्ज हैं 7 मुकदमे

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, मऊ सदर से विधायक अब्बास अंसारी के खिलाफ लखनऊ में दो, मऊ में चार और गाजीपुर में एक मामला दर्ज है। चुनाव प्रचार के दौरान मऊ पुलिस ने अब्बास के खिलाफ धारा 186 यानी सरकारी काम में बाधा डालना, धारा 189 यानी लोकसेवक को धमकी, धारा 153A यानी किसी वर्ग विशेष के खिलाफ बयान देना या अशांति का प्रयास और धारा 120B यानी आपराधिक षड्यंत्र का केस दर्ज किया था।

1 मुकदमा अपराध संख्या 431/19 – 419,420,467,468, 471, 30 आर्म्स एक्ट, महानगर लखनऊ।

2. मुकदमा अपराध संख्या 236 / 20 -120 बी, 420, 467,468,471, लोकसंपत्ति निवारण अधिनियम हजरतगंज, लखनऊ।

3. मुकदमा अपराध संख्या 689 /20-120 बी, 420, 323, 356, 467, 468,471,474,417 आईपीसी गाजीपुर।

4. मुकदमा अपराध संख्या 27/22-171 जी, 188 आईपीसी, 133 लोकप्रतिनिधि अधिनियम दक्षिणटोला, मऊ।

5. मुकदमा अपराध संख्या 95 / 22- 188, 171 च आईपीसी शहर कोतवाली मऊ।

6. मुकदमा अपराध संख्या 97 / 22506, 171 एफ, 153 ए, 186, 189, 120 बी आईपीसी शहर कोतवाली मऊ। 7. मुकदमा 106 / 22171 एच, 188, 341, आईपीसी, शहर कोतवाली मऊ।

73 सालों में पहली बार मनाया जाएगा Supreme Court का स्थापना दिवस

शनिवार यानी आज 4 फरवरी को पहली बार भारत के सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) का स्थापना दिवस मनाया जाएगा।इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सिंगापुर के न्यायाधीश जस्टिस सुंदरेश मेनन को बुलाया गया है।

मशहूर प्लेबैक सिंगर वाणी जयराम का निधन, हाल ही में पद्म भूषण से किया गया था सम्मानित

मशहूर प्लेबैक सिंगर वाणी जयराम का निधन, हाल ही में पद्म भूषण से किया गया था सम्मानित

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

BEST DEALS

Most Popular