मेडागास्कर के राष्ट्रपति, एंड्री राजोइलिना ने सभी अफ्रीकी देशों से विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) को छोड़ने का कियाआह्वान ।

मेडागास्कर के राष्ट्रपति, एंड्री राजोइलिना ने अफ्रीका के प्रति यूरोप के बुरे विश्वास के कारण सभी अफ्रीकी देशों को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की सदस्यता को छोड़ने का आह्वान किया है।

मालागासी राष्ट्रपति का कहना है,यूरोप ने अफ्रीकियों को अपनी इच्छा पर निर्भर करने के लिए संगठन बनाए। अफ्रीका को कोरोनावायरस की एक दवा मिली है लेकिन यूरोप को लगता है कि उनके पास बुद्धि का एकाधिकार है और वे इसे स्वीकार करने से इनकार कर रहे हैं। यह इस पृष्ठभूमि के खिलाफ है तथा मैं सभी अफ्रीकी देशों को आमंत्रित करता हूं कि वे हमारे लिए अंतरराष्ट्रीय संगठनों को छोड़ दें ताकि हम लोग अपना निर्माण कर सकें ।

राष्ट्रपति राजोइलिना ने दवा के रूप में और इलाज के रूप में रेखा पर अपनी प्रतिष्ठा और विश्वसनीयता डाल दी है। उन्होंने कहा कि यह 10 दिनों में COVID-19 को ठीक कर देता है।

राष्ट्रपति राजोइलिना ने डब्ल्यूएचओ की चिंताओं के जवाब में कहा की “कोई भी हमें आगे बढ़ने से नहीं रोक सकता – देश नहीं, संगठन नहीं”, उन्होंने कहा कि टॉनिक की प्रभावकारिता का प्रमाण “हमारे रोगियों” के “उपचार” में था। उन्होंने दवा को “निवारक और उपचारात्मक उपाय” बताया । राजोइलिना ने कहा कि अब तक मेडागास्कर में 212 कोरोनोवायरस संक्रमण और 107 ठीक होने की सूचना है।देश में एक गंभीर मामला है, लेकिन कोई मौत नहीं हुई है आब तक ।

Related posts

Leave a Comment