ये जानकारी बहुत महत्वपूर्ण है टेक्नॉलजी के इस दौर मे आप को जररूर जानना चाहिए इंटरनेट के बारे में ..


पहले युद्ध हथियारों से होते थे और अब युद्ध बायो बार साइबर वार द्वारा होते हैं हम वेब व इंटरनेट का 4% हिस्सा ही यूज़ करते हैं और बाकी 96% परसेंट कुछ गिने-चुने
लोग यूज़ करते हैं आप अभी सोच रहे होंगे की ये क्या फालतू की बात है..लेकिन रुको जरा आप को सब बताता हूँ..
👉पहले समझते है type of web..
1.surfece web–यही वही वेब का हिस्सा है जिसे हम use करते जो 4%है जो secure नहीं है
जैसे google,yahoo,.com,. In etc.


2.deep web–यह वेब का वह हिस्सा है जो कम्पनी,प्रॉपर्टी लीडर,सरकार के कुछ निजी कार्य होते है ये भी secure नहीं होता है
जैसे medical record,finacial record etc.


3.dark web–डर गए,डरना भी चाहिए यही 96%हिस्से का हिस्सा deep web को मिला के,सारे गैर कानूनी काम
drugs,weapon,बड़े बड़े इल्लीगल काम यही पर होते है और यह पूरा secure रहता है hacker इसे ही use करके बैंक,
निजी कंप्यूटर आदि को हैक करलेते है और इस dark web को एक्सेस भी नहीं करसकते है जैसे TOR ब्राउज़र(.onian) ये vpn से प्रोटेकटेड होता है ।
👉अब आते है TOR या (onion) ब्राउज़र क्या है?? Tor Browser का मुख्य काम Users का identity(परमाण ) को
गोपनीय रखे और ऐसा करने के लिए वो आपके Traffic को बहुत से अलग अलग Tor Servers से गुजारते हैं
और इसके साथ उन्हें Encrypt भी किया जाता है जिससे की कोई चाहे भी तो आपको Trace नहीं कर सकता. और कोई आपको
Track करने की कोशिश भी करे तो आपके Exact location के बारे में उसे पता नहीं चल सकेगा…


इसकी कुछ लिंक website list भेजता हूँ…
http://darkweb2020.com/wiki-tor-dark-web.html
👉Http(हाइपर टेक्स्ट ट्रैन्स्फर प्रोटोकॉल ) का अपडेट version https होता है जो secure रहता है… लास्ट मे s का मतलब ही secure होता है
आपने देखा होंगा.. HTTPS Protocol में Strong Security Feature मिलता है| HTTPS से जो
Data Transfer करते है.SSL (Secure Socket Layer) एक Standard Technology है


जो HTTPS को secure करती है अभी बोलेंगे मनीष क्या बतारह है 😁आपको live आके सब बतादूँगा.. http secure नहीं है
और https मे जो s है बह secure को दर्शाता है

Related posts

Leave a Comment