राजस्थान के मंत्री का महिला के साथ आपत्तिजनक VIDEO: भाजपा बोली- शाले मोहम्मद को कांग्रेस बर्खास्त करे

राजस्थान के मंत्री का महिला के साथ आपत्तिजनक VIDEO: भाजपा बोली- शाले मोहम्मद को कांग्रेस बर्खास्त करे राजस्थान में सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक अश्लील वीडियो ने सनसनी फैला दी है। भाजपा का दावा है कि वीडियो राजस्थान के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री शाले मोहम्मद का है और उनके साथ नजर आ रही महिला जोधपुर की है। बीजेपी ने वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है और शाले को कांग्रेस से बर्खास्त करने की मांग की है।

जोधपुर की एक महिला ने दो दिन पहले पुलिस को वीडियो लीक होने की शिकायत की थी । महिला की शिकायत पर पुलिस ने जांच की तो वीडियो शेयर करने वाले पांच लड़कों तक पहुंची।

वीडियो कैसे हुआ लीक ?

जोधपुर के शेरगढ़ थाना अधिकारी देवेन्द्र सिंह ने बताया कि पीड़िता ने 5 दिसंबर को FIR दर्ज करवाई है। पीड़िता ने कहा है कि गलती से उसका अश्लील वीडियो बन गया था। इसे उसकी 7 साल की बच्ची ने फोन पर गेम खेलते वक्त गलती से किसी और को फॉरवर्ड कर दिया। उस समय उसे पता नहीं चला। महिला का कहना है कि जब वह दो महीने पहले अपनी रिश्तेदारी में गई तो आरोपियों ने वीडियो वायरल करने की धमकी दी। साथ ही 25 लाख रुपए की मांग की और रिलेशन बनाने का प्रेशर डाला। इससे आहत होकर सुसाइड करने तक का मन बना लिया। महिला की शिकायत पर पुलिस ने ब्लैकमेल करने वाले पंकज विश्नोई, विकास, रामजस विश्नोई, सुमित विश्नोई, रविन्द्र विश्नोई को पोकरण से गिरफ्तार किया है।

सेक्सटॉर्शन गैंग में फंसा गहलोत का दूसरा मंत्री

इससे पहले इसी साल जनवरी में मंत्री रामलाल जाट को सेक्स स्कैंडल में फंसाने की कोशिश हुई थी। इसका खुलासा जोधपुर पुलिस ने किया था। एक मॉडल के जरिए राजस्थान के राजस्व मंत्री रामलाल जाट को हनी ट्रैप में फंसाने की साजिश रची जा रही थी। युवक-युवती अपनी साजिश में कामयाब होते, उससे पहले मॉडल भीलवाड़ा से निकल गई और जोधपुर में एक होटल की 7वीं मंजिल से कूद गई। इस वजह से साजिश नाकाम हो गई थी । षड्यंत्र रचने वाली मॉडल दीपिका (30) और अक्षत (32) को भीलवाड़ा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। खुद मंत्री ने साजिश की बात स्वीकार की थी।

ये भी पढ़ें….

70 हजार सैलरी वाले अफसर के जयपुर में 17 प्लॉट- होटल : दो भ्रष्टाचारियों के पास 22 करोड़ की प्रॉपर्टी; ट्रांसफर होते ही नेता करा देते कैंसिल

एंटी करप्शन ब्यूरो ने जयपुर के दो सरकारी अफसरों के घर सर्च किए तो टीम भी चौंक गई। सर्च में मिली करोड़ों की प्रॉपर्टी में जयपुर के पॉश इलाकों में खाली जमीनें और एक लग्जरी होटल भी शामिल है। दोनों के पास करीब 6.5 करोड़ और 16.31 करोड़ की प्रॉपर्टी मिली है ।

70 हजार सैलरी वाले अफसर के जयपुर में 17 प्लॉट- होटल : दो भ्रष्टाचारियों के पास 22 करोड़ की प्रॉपर्टी; ट्रांसफर होते ही नेता करा देते कैंसिल

एंटी करप्शन ब्यूरो ने जयपुर के दो सरकारी अफसरों के घर सर्च किए तो टीम भी चौंक गई। सर्च में मिली करोड़ों की प्रॉपर्टी में जयपुर के पॉश इलाकों में खाली जमीनें और एक लग्जरी होटल भी शामिल हैं। दोनों के पास करीब 6.5 करोड़ और 16.31 करोड़ की प्रॉपर्टी मिली है।

इनमें से एक सूचना एव तकनीकी विभाग (DOIT) में सूचना सहायक अभी सस्पेंड प्रतिभा कमल के घर सर्च के दौरान 6.5 करोड़ की संपत्ति मिली है। वहीं, जयपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड में 70 हजार सैलरी पाने वाले सहायक लेखाधिकारी दीपक गुप्ता के पास 16.31 करोड़ की संपत्तियां मिली हैं।

एसीबी ने बुधवार को दीपक गुप्ता और प्रतीभा कमल के बैंक लॉकरों को भी सर्च किया। दोनों के ही लॉकर खाली मिले। एसीबी के अधिकारियों ने बताया कि दीपक का पीएनबी बैंक में एक लॉकर था। जिसे आज अधिकारियों की मौजूदगी में खोल गया। लॉकर से उन्हे कुछ नहीं मिला। वहीं, प्रतीभा कमल का एक लॉकर बैंक ऑफ महाराष्ट्रा में है। इसे भी आज खोला गया। उसमें भी कुछ नहीं निकला है। आने वाले दिनों में दोनों सरकारी अधिकारियों के अन्य बैंकों के लॉकर भी खोले जाएंगे। प्रतिभा कमल के जयपुर में अलग-अलग बैंक में 11 खाते हैं। वहीं, दीपक गुप्ता के भी 4 बैंक खाते अभी तक सामने आए हैं। इनमें से एक को आज बैंक अधिकारियों की मौजूदगी में खोला गया। वहीं, दीपक गुप्ता के खिलाफ लगातार भ्रष्टाचार की शिकायतें विभागीय अधिकारियों को मिलती रही हैं, लेकिन उसका ट्रांसफर जयपुर से बाहर नहीं हुआ।

माइक पोम्पिओ का दावा‌ : क्या चीन के कारण QUAD में शामिल हुआ था भारत 2023

माइक पोम्पिओ ने अपनी किताब में बताया है कि अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का प्रशासन किस तरह QUAD में भारत को शामिल करने में कामयाब रहा।

Private school में 2 बहनों के पढ़ने पर एक की फीस भरेगी राज्य सरकार

Private school में राज्य सरकार जल्द ही दो सगी बहनों के पढ़ने पर एक की फीस योगी सरकार भरेगी। शासन ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की इस घोषणा को लागू करने की पूरी तैयारी कर ली है। जल्द ही प्रदेश में स्मार्ट शिक्षा व्यवस्था लागू होने वाली है। इसके तहत जूनियर और माध्यमिक स्कूलों के छात्रों को स्मार्ट क्लास के तहत एजुकेशन दी जाएगी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

BEST DEALS

Most Popular