राज्यों में कांग्रेस का गणित बिगाड़ सकती है आप: गुजरात में AAP को 12.9% वोट; कांग्रेस के 15% घटकर 27.3% हुए, सीटें 60 घटीं

राज्यों में कांग्रेस का गणित बिगाड़ सकती है आप: गुजरात में AAP को 12.9% वोट; कांग्रेस के 15% घटकर 27.3% हुए, सीटें 60 घटीं आम आदमी पार्टी ने भाजपा के गढ़ गुजरात में एंट्री के साथ ही 12.9% वोट हासिल कर इस बार कांग्रेस का पूरा गणित बिगाड़ दिया है। पिछले चुनाव में 42.2% वोट के साथ 77 सीट हासिल करने वाली कांग्रेस सिर्फ 17 सीट (27.3% वोट) पर सिमट गई। इससे कांग्रेस गुजरात में अपने इतिहास के न्यूनतम और भाजपा रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गई। आप ने दिल्ली, पंजाब और दिल्ली नगर निगम में कांग्रेस को मुकाबले से बाहर करने के बाद यह सबसे बड़ा उलटफेर किया है। अब इस बात की संभावना तेज हो गई कि स्थापना के महज नौ साल में राष्ट्रीय पार्टी का तमगा हासिल करने वाले अरविंद केजरीवाल अगले साल नवंबर में मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में दमदारी से उतरेंगे। ऐसा हुआ तो इन राज्यों में कांग्रेस के वोट कटने का नुकसान भाजपा के लाभ के रूप में दर्ज हो सकता है। मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में अभी मुख्य तौर पर भाजपा और कांग्रेस में ही मुकाबला है। बसपा तीसरी राष्ट्रीय पार्टी होने के बाद भी इन राज्यों में बेहद सीमित है। अन्य क्षेत्रीय दल बहुत ही छोटे हैं। आप का गेम प्लान यही है कि वह अभी इन चुनावों में अपना वोट बैंक और कुछ सीटें खड़ी करना चाहती है, ताकि उसकी कई राज्यों में मौजूदगी हो जाए। पार्टी के सूत्र कहते हैं कि वे अगले 5 साल बाद होने वाले चुनावों की तरफ देख रहे हैं जहां वो कांग्रेस को रिप्लेस करके या तो प्रदेश की दूसरी पार्टी या फिर जहां एंटी इनकंबेंसी ।

आप से जुड़े कुछ खास फैक्टर मुस्लिम वोट: जो अल्पसंख्यक मतदाता भाजपा को वोट नहीं देना चाहते, उनके लिए आप कांग्रेस के अलावा नया विकल्प साबित हो सकती है।

मॉडल स्टेट: आप हर राज्य में दिल्ली मॉडल दिखाकर फ्रीबीज पर दांव खेल रही है। इससे अन्य पार्टियों पर दबाव बनेगा और उन्हें जनता का गुस्सा झेलना पड़ सकता है।

नए चेहरे: आप राज्यों में नए और सामाजिक रूप से सक्रिय चेहरों को मौका देने से एंटी इंकम्बेंसी का फायदा उठाने में कामयाब रहती है।

कम मार्जिन वाली सीटों पर नजर

मप्र, छग और राजस्थान में आप यदि सक्रिय हुई तो उन सीटों पर सबसे ज्यादा असर पड़ सकता है, जहां पिछली बार जीत-हार का अंतर कम था ।

• राजस्थान में पिछले चुनाव में 58 सीटों पर जीत हार का मार्जिन 5% वोटों से कम रहा। इनमें से 13 पर अंतर 1% से कम, 23 पर 2% से कम, 39 पर 3% से कम और 47 पर 4% से कम के अंतर से जीत-हार हुई।

• मध्यप्रदेश में पिछले चुनाव में 71 सीटों पर 5% से कम, 60 पर 4% से कम, 44 पर 3% से कम, 30 पर 2% से कम और 16 सीटों पर जीत-हार का अंतर महज 1% से भी कम रहा था।

• छत्तीसगढ़ में 18 सीटों पर 5% से कम, 14 सीटों पर 3% से कम, 6 सीटों पर 2% से कम और 2 सीटों पर 1% से भी कम वोटों के अंतर से जीत-हार तय हुई थी।

एक दिन के ब्रेक के बाद राहुल की यात्रा शुरू: महिलाओं के लिए बदला दिन; प्रियंका गांधी भी होंगी शामिल

भारत जोड़ो यात्रा में आज का दिन महिलाओं के लिए तय किया गया था, लेकिन अब इसे बदला गया है। अब 12 दिसंबर को राहुल के साथ केवल महिला यात्री ही चलेंगी। प्रियंका गांधी भी इस दिन यात्रा का हिस्सा होंगी। इसे महिला शक्ति पदयात्रा नाम दिया गया है।

आज भारत जोड़ो यात्रा का राजस्थान में छठा दिन है। आज यात्रा की शुरुआत बूंदी के केशोरायपाट से सुबह करीब 8.30 बजे हुई। आज यात्रा के समय में बदलाव किया गया था। बूंदी जिले के केशोरायपाटन में यात्रा 23.50 किलोमीटर का सफर तय करेगी। राहुल गांधी रणथंभौर से आज सुबह ही यहां पहुंचे हैं। आज की यात्रा में राहुल के साथ कांग्रेस दल के नेता अधीर रंजन चौधरी, सीएम अशोक गहलोत, गोविंद डोटासरा साथ चल रहे हैं। वहीं, खेल मंत्री अशोक चांदना और जाहिदा खान भी यात्रा में राहुल के साथ दिख रहे हैं। यात्रा के दौरान आज राहुल गांधी के साथ सफाईकर्मी भी चले। राहुल लगातार उनके साथ बात करते हुए दिखाई दिए। उन्होंने राहुल से अपने रुटीन की चर्चा की।

यात्रा केशोरायपाटन में लालसोट कोटा हाईवे पर आगे बढ़ेगी। सुबह करीब 11 बजे यात्रा में लंच ब्रेक होगा। दोपहर बाद 3:30 बजे दूसरा फेज स्टार्ट होगा। इसके बाद शाम 6:30 बजे कापरेन के बालापुरा चौराहा पर यात्रा का लास्ट पॉइंट रखा है। यहां से आगे कोडक्या में यात्रा का नाइट स्टे रखा गया है। 9 दिसंबर को सोनिया गांधी का जन्मदिन सेलिब्रेट करने के लिए पूरा गांधी परिवार रणथंभौर पहुंचा था। सोनिया के जन्मदिन की वजह से ही यात्रा में ब्रेक लिया गया था।

यात्रा से जुड़े बड़े अपडेट

• राहुल गांधी की यात्रा में 12 दिसंबर को महिला दिवस मनाया जाएगा। इस दिन राहुल के साथ मुख्य घेरे में केवल महिलाएं ही चलेंगी। इस दिन प्रियंका गांधी भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होंगी। सोनिया गांधी का जन्मदिन मनाने के लिए प्रियंका गांधी रणथंभौर में हैं। पहले 10 दिसंबर को राहुल गांधी के साथ केवल महिला यात्री चलने का कार्यक्रम बनाया था, लेकिन प्रियंका गांधी की वजह से इसमें बदलाव किया गया है।

• राहुल गांधी राजस्थान की यात्रा में केवल एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगें। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव जयराम रमेश ने कहा- 19 तारीख को अलवर में एक विशाल रैली होगी। 18 दिसंबर को अलवर के पास राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस होगी।

• 24 दिसंबर को यात्रा दिल्ली में आएगी। राहुल 7-8 दिन दिल्ली में रुकेंगे और 2 या 3 जनवरी को फिर से भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत होगी।

Private school में 2 बहनों के पढ़ने पर एक की फीस भरेगी राज्य सरकार

Private school में राज्य सरकार जल्द ही दो सगी बहनों के पढ़ने पर एक की फीस योगी सरकार भरेगी। शासन ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की इस घोषणा को लागू करने की पूरी तैयारी कर ली है। जल्द ही प्रदेश में स्मार्ट शिक्षा व्यवस्था लागू होने वाली है। इसके तहत जूनियर और माध्यमिक स्कूलों के छात्रों को स्मार्ट क्लास के तहत एजुकेशन दी जाएगी।

अब नहीं रहेगा वेटिंग लिस्ट का झंझट, Indian railway ला रहा है नया AI Based System 2023

AI Module Rail Root पर विभिन्‍न तथ्‍यों की गणना करके ज्‍यादा से ज्यादा टिकट कंबिनेशन का ऑप्शन देता है। इससे वेटिंग लिस्‍ट में 5 से 6 फीसदी तक की कमी होती है। और टिकट कंबीनेशन की संख्या में बढ़ोतरी होती है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

BEST DEALS

Most Popular