राहुल के आने से पहले किसानों को 24 घंटे बिजली : पहले 6 घंटे भी तरसते थे, लोग बोले- जो अधिकारी कभी नहीं देखे, वो दिखने लगे

राहुल के आने से पहले किसानों को 24 घंटे बिजली : पहले 6 घंटे भी तरसते थे, लोग बोले- जो अधिकारी कभी नहीं देखे, वो दिखने लगे राहुल की भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान में 520 किलोमीटर का सफर तय करेगी। माना जा रहा है कि इस यात्रा का फायदा राजस्थान कांग्रेस को आने वाले चुनावों में मिलेगा। कितना फायदा मिलेगा यह तो वक्त ही बताएगा। मगर उन लोगों को तो फायदा होता तो अभी से दिख रहा है, जहां-जहां से राहुल गांधी की यात्रा गुजरेगी।

राजस्थान की जिस भी सड़क से राहुल गांधी गुजरेंगे उसे मखमल की तरह चमकाया जा रहा है। हो सकता है 5 दिन पहले तक आपने वहां बड़े-बड़े गड्डे देखें हों, सड़कों पर फैला कचरा देखा हो, लेकिन अब तस्वीर बदल चुकी है। पूरे रूट पर एक भी गड्डा नहीं दिखेगा। जहां सड़क पुरानी सी दिख रही है, वहां डामर की परत चढ़ाई जा रही है। यात्रा के रूट पर आने वाले गांव जो 6 घंटे बिजली को तरसते थे, वहां 24 घंटे सप्लाई हो रही है। खासतौर से झालावाड़ के लिए राहुल की यात्रा बेहद महत्वपूर्ण होने वाली है। भास्कर टीम जब वहां पहुंची तो गांव के लोगों ने ही बताया कि भले कुछ दिन के लिए सही, लेकिन उनके इलाकों का कायापलट हो रहा है। अब तक जिन मांगों के लिए अफसरों के चक्कर काटने पड़ते थे। सरकारी दफ्तरों में जो अफसर गायब रहते थे, वे आज उनके यहां चक्कर काट रहे हैं।

पढ़िए राहुल गांधी की यात्रा के रूट से ग्राउंड रिपोर्ट का चौथा पार्ट….

पहले 8 घंटे बिजली आती थी, अब 24 घंटे बिजली आ रही

झालावाड़ का रायपुर वो कस्बा है जहां से राहुल गांधी की यात्रा का काफिला काफी लंबा गुजरेगा। यहां हमें सुरेंद्र कुमार मीणा मिले। वे पेशे से किसान हैं। उन्होंने हमें बताया कि जब तक यात्रा तय नहीं थी, उससे पहले यहां कभी 6 तो कभी 8 घंटे बिजली आती थी, अब 24 घंटे बिजली आ रही है। यात्रा आने से पहले ही अब हमारे पास थ्री फेज लाइन आ रही है। हम किसानों को फायदा मिल रहा है। अब फसलों को रात में पानी देने की जरुरत नहीं पड़ रही, दिन में ही पानी दे रहे हैं। पहले यहां यूरिया खाद का संकट था। अब डीएपी और यूरिया टाइम पर मिल रहा है। सबसे खास बात पहले एक-दो बोरी यूरिया मिलता था, अब जितना चाहिए उतना मिल रहा। सड़कों की सफाई तो दूर कोई गड्डे भरने के लिए कोई नहीं आता था, अब सड़कें साफ भी हैं मलाईदार भी हो गई हैं।

अधिकारी ले रहे हैं फीडबैक

सुरेंद्र मीणा कहते हैं कि जो अधिकारी पहले कभी नहीं देखे, वो गांवों में आकर डेली फीडबैक ले रहे हैं। रात-दिन घूम रहे हैं। चिकित्सा सुविधाएं भी बेहतर हो गई हैं। सब कुछ टाइम पर हो रहा है। हमें देखने, उनको समझने और बात करने का मौका मिलेगा। सुरेंद्र कहते हैं कि पिछले 15 दिन से सरकारी अधिकारी एक्टिव हुए हैं। अधिकारियों के साथ-साथ कई नेता लोग भी गांवों में आ रहे हैं। इससे पहले वोट के समय पर ही नेता आते थे। और चुनाव के समय पर ही हमारी सुध ली जाती थी।

पूरे रूट पर एक भी गड्डा नहीं

राजस्थान में जिन जिलों और उनके कस्बों या गांवों से यात्रा गुजर रही है, वहां की कायापलट हो रही है। इस पूरे रास्ते पर सड़क को दुरुस्त कर दिया गया है। अब सड़क पर एक भी गड्डा नजर नहीं आएगा। कई जगहों पर तो नई सड़कें बन रही हैं। कहीं-कहीं पैचवर्क कराया जा रहा है। इसके अलावा इस पूरे रूट पर जरा भी गंदगी नजर नहीं आ रही। रूटीन साफ-सफाई कर चमका दिया गया है।

डिवाइडर, पुलिया रंगे, जगह-जगह रंगोलियां

पूरे रूट पर पड़ने वाले डिवाइडर और पुलियाओं पर रंगाई पुताई कर नया रूप दे दिया गया है। रास्ते से अतिक्रमण और कचरा सब हटा दिया गया है। जहां से राहुल गांधी गुजरेंगे वहां जगह-जगह रंगोलियां और पेंटिंग भी की जा रही हैं।

Private school में 2 बहनों के पढ़ने पर एक की फीस भरेगी राज्य सरकार

Private school में राज्य सरकार जल्द ही दो सगी बहनों के पढ़ने पर एक की फीस योगी सरकार भरेगी। शासन ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की इस घोषणा को लागू करने की पूरी तैयारी कर ली है। जल्द ही प्रदेश में स्मार्ट शिक्षा व्यवस्था लागू होने वाली है। इसके तहत जूनियर और माध्यमिक स्कूलों के छात्रों को स्मार्ट क्लास के तहत एजुकेशन दी जाएगी।

अब नहीं रहेगा वेटिंग लिस्ट का झंझट, Indian railway ला रहा है नया AI Based System 2023

AI Module Rail Root पर विभिन्‍न तथ्‍यों की गणना करके ज्‍यादा से ज्यादा टिकट कंबिनेशन का ऑप्शन देता है। इससे वेटिंग लिस्‍ट में 5 से 6 फीसदी तक की कमी होती है। और टिकट कंबीनेशन की संख्या में बढ़ोतरी होती है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

BEST DEALS

Most Popular