श्रद्धा को मारने के बाद आफताब ने देखा जॉनी – – अम्बर ट्रायल : पुलिस को शक- पूछताछ में गुमराह करना यहीं से सीखा

श्रद्धा को मारने के बाद आफताब ने देखा जॉनी – – अम्बर ट्रायल : पुलिस को शक- पूछताछ में गुमराह करना यहीं से सीखा दिल्ली के श्रद्धा मर्डर केस में नया खुलासा हुआ है। दिल्ली पुलिस ने बताया है कि श्रद्धा का मर्डर करने के बाद आफताब ने हॉलीवुड सेलिब्रिटी जॉनी डेप और अम्बर हर्ड के मानहानि मुकदमे का लाइव ट्रायल देखा था, वो भी 100 घंटे से ज्यादा । आफताब की इंटरनेट सर्च हिस्ट्री से यह नई जानकारी सामने आई है।

पुलिस का कहना है कि आफताब ने इस ट्रायल का हर पहलू अच्छे से देखा और उसके बारे में पढ़ा। इसमें घरेलू हिंसा से लेकर उन सब तरह के झगड़ों की बात थी, जो अक्सर कपल्स के बीच होते हैं। पुलिस को शक है कि आफताब ने इस ट्रायल को देखकर ऐसी तरकीबें सीखीं जिनसे वह पूछताछ में खुद को संभाल पाया और पुलिस को गुमराह करता रहा ।

आफताब ने पुलिस को बताया- 4 महीने तक फ्रिज में रखे श्रद्धा के टुकड़े इससे पहले आफताब ने पुलिस को बताया था कि श्रद्धा के शरीर के 35 टुकड़े करने के बाद उसने करीब 4 महीने तक श्रद्धा के टुकड़े फ्रिज में रखे थे। श्रद्धा के मर्डर के बाद वह तय नहीं कर पा रहा था कि उसके टुकड़े को कैसे ठिकाने लगाया जाए। एक दिन अपने दोस्त के घर की छत पर टहलते हुए उसने छतरपुर जंगल देखा और शरीर के टुकड़े वहीं फेंकना तय किया । उसने कई दिनों में इस काम को अंजाम दिया। इससे पहले तक पुलिस की जांच में यह बात सामने आई थी कि आफताब ने 18 मई को श्रद्धा का मर्डर करने के बाद करीब 3 हफ्ते तक उसके शरीर के 35 टुकड़ों को फ्रिज में स्टोर किया था। इसके बाद उसने 16 दिनों तक इन टुकड़ों को शहर में अलग-अलग जगह डंप किया था।

12 नवंबर को हुई थी आफताब की गिरफ्तारी

पुलिस ने 12 नवंबर को आफताब को गिरफ्तार किया था। इसके बाद उसे 5 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया। 17 नवंबर को उसकी कस्टडी को पांच दिन और बढ़ा दिया गया। 26 नवंबर को कोर्ट ने उसे 13 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इस दौरान उसके पॉलीग्राफ और नार्को टेस्ट भी हुए।

आफताब को जेल में दी गई ‘द ग्रेट रेलवे बाजार’ किताब, अब तक हुए सभी टेस्ट में जवाब एक जैसे

इन दिनों तिहाड़ जेल में बंद आफताब ने अब तक हुए सभी टेस्ट में पूछे गए सवालों के एक जैसे ही जवाब दिए हैं। उसका इकबालिया बयान, पॉलीग्राफ और नार्को एनालिसिस टेस्ट के दौरान उससे पूछे गए सवालों के जवाब मैच करते हैं। दोनों ही टेस्ट में उसने श्रद्धा की हत्या की बात कबूली है। आफताब ने तिहाड़ जेल प्रशासन से पढ़ने के लिए इंग्लिश नॉवेल और लिटरेचर बुक्स मांगी है। उसे जल्द ही ये बुक्स मुहैया कराई जाएंगी।

आफताब को दी गई ‘द ग्रेट रेलवे बाजार’: जेल में पढ़ना चाहता है इंग्लिश नॉवेल, अब तक हुए सभी टेस्ट में जवाब एक जैसे

श्रद्धा मर्डर केस के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला ने तिहाड़ जेल प्रशासन से पढ़ने के लिए कोई भी इंग्लिश नॉवेल मांगी थी। शनिवार शाम को प्रशासन ने उसे ‘द ग्रेट रेलवे बाजार: बाय ट्रेन थ्रू एशिया’ किताब मुहैया कराई। यह किताब अमेरिकी उपन्यासकार पॉल थेरॉक्स का यात्रा वृतांत है। जेल अधिकारियों ने बताया, उसे किताब दे दी है क्योंकि यह अपराध पर आधारित नहीं है। यह किताब पढ़कर आफताब किसी अन्य या खुद को नुकसान नहीं पहुंचा सकता।

आफताब ने अब तक हुए सभी टेस्ट में पूछे गए सवालों के एक जैसी ही जवाब दिए हैं। PTI ने शुक्रवार को पुलिस सूत्रों के हवाले से बताया कि पूनावाला का इकबालिया बयान, पॉलीग्राफ और नार्को एनालिसिस टेस्ट के दौरान उससे पूछे गए सवालों के जवाब मैच करते हैं। बता दें कि दोनों ही टेस्ट में उसने श्रद्धा की हत्या की बात कबूली है। आफताब ने तिहाड़ जेल प्रशासन से पढ़ने के लिए इंग्लिश नॉवेल और लिटरेचर बुक्स मांगी है। उसे जल्द ही ये बुक्स दी मुहैया कराई जाएंगी।

73 सालों में पहली बार मनाया जाएगा Supreme Court का स्थापना दिवस

शनिवार यानी आज 4 फरवरी को पहली बार भारत के सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) का स्थापना दिवस मनाया जाएगा।इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सिंगापुर के न्यायाधीश जस्टिस सुंदरेश मेनन को बुलाया गया है।

मशहूर प्लेबैक सिंगर वाणी जयराम का निधन, हाल ही में पद्म भूषण से किया गया था सम्मानित

मशहूर प्लेबैक सिंगर वाणी जयराम का निधन, हाल ही में पद्म भूषण से किया गया था सम्मानित

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

BEST DEALS

Most Popular