13 नवंबर की वनपाल परीक्षा भी हो सकती है रद्द: 30 से ज्यादा लोगों को बेचा गया लीक पेपर; कोचिंग मालिकों पर शक, 10 हिरासत में

13 नवंबर की वनपाल परीक्षा भी हो सकती है रद्द: 30 से ज्यादा लोगों को बेचा गया लीक पेपर; कोचिंग मालिकों पर शक, 10 हिरासत में रीट और पटवारी के बाद अब वनपाल परीक्षा भी सवालों के घेरे में हैं। यह एग्जाम 12 और 13 नवंबर को हुई थी। शनिवार 12 नवंबर को दूसरी पारी की परीक्षा से पहले ही आंसर-की वॉटसऐप पर आ गई थी। पेपर लीक के आरोप में राजसमंद पुलिस ने बिजली विभाग के कर्मचारी को गिरफ्तार किया था।

अब 13 नवंबर को हुई एग्जाम पर भी सवाल उठने लगे हैं। इस दिन की तीसरी पारी के परीक्षा के सवाल भी सोशल मीडिया पर शेयर होने का दावा किया जा रहा है। वहीं, राजसमंद पुलिस की जांच में पिछले तीन दिनों में चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। जानकारी के अनुसार वनपाल (वनरक्षक) का पेपर करीब 30 लोगों को बेचा गया था। इसके लिए 4-6 लाख रुपए में डील हुई थी। केस में राजसमंद के कई कोचिंग संचालक भी शक के घेरे में है। हालांकि, पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं कि है। बताया जा रहा है कि पूछताछ के बाद इसका खुलासा किया जाएगा। राजसमंद पुलिस ने दिल्ली- -जयपुर समेत अलग-अलग स्थानों से 10 लोगों को पूछताछ कर हिरासत में लिया है। इनकी गिरफ्तारी मंगलवार शाम तक हो सकती है और राजसमंद पुलिस आज शाम तक इस पूरे मामले का खुलासा भी कर सकती है।

रेलमगरा (राजसमंद) पुलिस थानाधिकारी भरत योगी ने बताया कि इस मामले में भरत चौधरी को दिल्ली से डिटेन कर राजसमंद लाया गया है। हालांकि, वनपाल (वनरक्षक) भर्ती परीक्षा का 12 नवंबर को हुए द्वितीय पारी का पेपर निरस्त किया जा चुका है।

13 नवंबर के तीसरी पारी के पेपर को लेकर भी होगी पूछताछ

इधर, 13 नवंबर के तीसरी पारी के भी 50 प्रश्नों की आंसर-की सामने आने के बाद पुलिस इसको लेकर भी पूछताछ कर रही है। आरोपियों ने किन-किन लोगों को पेपर बेचा इसकी भी जानकारी जुटाई जा रही है। वहीं, पेपर लीक प्रकरण में बिजली निगम के दरीबा जीएसएस में तैनात लाइनमैन दीपक शर्मा को सोमवार दोपहर न्यायालय में पेश किया, जहां से न्यायालय में सुनवाई करते हुए 8 दिन की रिमांड पर भेजा है। दीपक से रिमांड के दौरान पूछताछ करते हुए आगे आरोपियों की तलाश की जाएगी।

परीक्षा पेपर लीक मामले में गिरफ्तार दीपक कुमार शर्मा 2018 से दरीबा सब ग्रिड स्टेशन पर टेक्निकल हेल्पर था। वह रेलमगरा में सरकारी क्वार्टर में अपने परिवार के साथ रहता है। 12 नवम्बर को दीपक ने वनरक्षक भर्ती परीक्षा के पेपर की आंसर सीट को 6-6 लाख रुपए की डील कर वॉट्सऐप पर सेंड किया था। वह साल 2018 से वह रेलमगरा में कार्यरत है।

62 आंसर एग्जाम से पहले ही मिल गए

इस आंसर शीट को पेपर से मिलाया गया तो यह सही पाई गई थी। दीपक ने पुलिस को बताया कि उसे 9461*** सीरीज के वॉट्सऐप नंबर से यह आंसर शीट मिली थी। वॉट्सऐप वाइस कॉल पर 12 नवंबर को हुई परीक्षा के दूसरी पारी के प्रश्न पत्र के उत्तर के लिए उसने 5 लाख रुपए में डील की थी। डील के तहत आंसर शीट वॉट्सऐप पर परीक्षा से करीब 1 घंटे पहले उपलब्ध कराने की बात हुई थी। पुलिस ने पूछा कि किस सोर्स से पेपर मिला तो जयपुर के पवन सैनी (निवासी गंगापुर सिटी, सवाई माधोपुर) का नाम सामने आया। पुलिस ने पवन को भी डिटेन कर लिया।

सीएम ने कहा था- पेपर लीक गिरोह का सफाया कर देंगे वनपाल भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के सवाल पर सीएम अशोक गहलोत ने कहा था कि- राजस्थान में पेपर लीक गिरोह का सफाया कर देंगे। पेपर लीक देशभर में हो रहे हैं, आर्मी में भी होते हैं। राजस्थान सरकार पेपर लीक करने वालों को जेल में बंद कर रही है।

More than 400 attended Vivekananda Kendra’s Young India know Thyself orientation

विवेकानंद केंद्र के Young India Know Thyself ओरिएंटेशन में 400 से अधिक युवाओं ने भाग लिया The sixth season of Young India Know Thyself: A...

विवेकानंद केंद्र दिल्ली शाखा ने मनाया “साधना दिवस” Vivekananda Kendra Delhi Branch Celebrated “Sadha Diwas”

विवेकानंद केंद्र, कन्याकुमारी की दिल्ली शाखा ने पिछले रविवार को माननीय एकनाथ जी रानडे की जयंती को "साधना दिवस" के रूप में मनाया। श्री...

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

BEST DEALS

Most Popular