शेयर मार्केट क्या है (What is stock market)

परिचय ( Introduction):

शेयर का मतलब होता है हिस्सेदारी और बाजार का अर्थ होता है जहां पर आप वस्तुओं को खरीद व बेंच सकते हैं। Share Market या Stock market एक ऐसे मार्केट को समझा जा सकता है ,जो कि असल में एक कलेक्शन होता है बहुत से markets और exchanges जहां की रेगुलर ढंग से share की बिक्री और ख़रीदारी लोगों के द्वारा की जाती है।

वहां पर केवल उन companies के share की ख़रीदारी और बिक्री होती है जो की share मार्केट में लिस्ट की गयी होती है। यानि की ऐसी companies जिसमें आप हम अपने पैसे निवेश कर सकते हैं। ये किसी भी दूसरे सामान्य बाजार की तरह होता है जहाँ पर जाकर लोग शेयर की खरीद बिक्री का काम करते हैं. इसका काम अब ऑफलाइन तक सीमित नहीं है बल्कि ये अब ऑनलाइन भी हो चुका है।

अगर आप समाचार देखते होंगे तो कई बार आपने जरूर सुना होगा की Share Market क्या है (What is Share Market in Hindi) लेकिन शेयर कैसे खरीदते हैं और भारत में कितने शेयर बाजार है ये कम ही लोग जानते हैं।

आज हर कोई पैसे कमाने के तरीके ढूंढता है. जिंदगी में पैसों की अहमियत कौन नहीं जानता. इसे खरीद कर लोग अपने पैसों का निवेश करते हैं. इन शेयर के दाम बढ़ते घटते रहते हैं. जब दाम बढ़ते हैं तो आप इसे बेचक सकते हैं.एक वक़्त था जब टेक्नोलॉजी इतनी विकसित नहीं थी और शेयर की खरीद बिक्री मौखिक बोलियों से की जाती थी. लेकिन अब स्टॉक मार्केट का सारा काम और शेयर की लेन देन स्टॉक एक्सचेंज के नेटवर्क से जुड़े कम्प्यूटरों के द्वारा की जाती है।

आज स्टॉक मार्केट का सारा काम इंटरनेट का इस्तेमाल कर के लोग घर बैठे ही कर लेते हैं. आप भले ही दुनिया के किसी भी कोने में हो , वहीँ से स्टॉक मार्केट का काम कर सकते हैं।

बिना पैसों के अच्छी ज़िन्दगी नहीं मिल सकती, साथ ही हम इसके बिना अपने जरुरत के काम भी पुरे नहीं कर सकते हैं. वैसे तो पैसे कमाने के बहुत तरीके हैं। क्या आपको पता है, ऐसी कौन सी जगह है की जहाँ अपने पैसे दाव पर लगाने के बाद भी लोगों को मुनाफा होता है? वो जगह है share market के बारे में सभी ने सुना होगा मगर वहां क्या होता है इसका ज्ञान सभी को नहीं है। इसलिए आज मै आपको शेयर मार्किट क्या होता है और share market knowledge in Hindi के बारे में बताने जा रही हूँ। तो आइए शेयर मार्केट के बारे में विस्तार से

भारत का पहला बिटक्वाईन (bitcoin) घोटाला आया सामने..

शेयर मार्केट की परिभाषा:

ये एक ऐसी जगह होती है जहाँ पर कंपनियां अपने शेयर को मार्केट में आम जनता के खरीद बिक्री करने के लिए जारी करती हैं। शेयर मार्केट कहलाते हैं।

जिसके माध्यम से कंपनियां अपने बिज़नेस में हिस्सेदारी खरीदने का मौका देती है। जिसे खरीद कर हम उस कंपनी के हिस्सेदार बन जाते हैं. किसी की भी स्टॉक की कीमत में होने वाला उतार चढ़ाव कंपनी की स्थिति पर निर्भर करता है।

शेयर मार्केट कैसे स्टार्ट करे (How to Invest in Share Market ) :

देखिये बहुत सारे लोगों को ये तो मालूम होता ही है कि इस में Invest कर के पैसे कमाए जाते हैं लेकिन बहुत कम लोगों को ही नॉलेज होती है की इस में Invest कैसे करें? इस पोस्ट को पूरा पढ़िएगा। इन्वेस्ट करने के लिए एक Stock Broker की जरुरत पड़ती है. आप Invest करने के लिए directly इसमें नहीं जा सकते हैं।

किसी भी शेयर को खरीदने और बेचने के लिए एक Stock Broker का होना बहुत जरुरी है क्योंकि अगर आप एक investor हैं तो यही आपको इस बाजार तक पहुंचाता है। Stock Broker का क्या और कितना महत्व है ये तो आप समझ चुके होंगे लेकिन आखिर Stock Broker हमे इसमें invest करने के लिए कैसे मदद करता है?

तो इसके लिए सबसे पहले आपको एक Stock Broker ढूँढना होगा। Market में आपको बहुत Broker मिल जायेंगे जैसे Upstox, Zerodha, Sharekhan, Angel Broking, ICICI Direct इत्यादि. जब आप इन से संपर्क करेंगे तो आपको ये आपके लिए account खोल देंगे जिससे की आप इसमें Invest कर सकेंगे. Investment के लिए जो account जरुरी हैं वो ये निचे दिए गए हैं।

Demat Account

Trading account

Demat account:

share खरीदने के लिए हम पैसे जिस Account में रखते हैं वही Demat Account होता है। इसी के जरिये हमे खरीदी और बिक्री पर जब profit होता है तो profit का पैसा भी हमे इसी Account में मिलता है ये बिलकुल Bank Account के जैसा ही काम करता है. एक से ज्यादा डीमैट अकाउंट रखने के कोई खास फायदे नहीं है। हां अलग-अलग ब्रोकरेज हाउस की अलग-अलग सुविधाएं हो सकती हैं।

इसके अलावा आप अपनी लंबी और छोटी अवधि के निवेश को अलग से ट्रैक कर सकते हैं। इससे कंफ्यूजन नहीं होगा और आप शेयरों की खरीद-बिक्री को लेकर काफी सतर्क रहेंगे।

Trading account :

आपका ट्रेडिंग अकाउंट आपके डीमैट और बैंक अकाउंट के बीच एक लिंक है। यह आपके शेयरों को आपके डीमैट खाते से डेबिट करके बेचने की सुविधा देता है और आपके बैंक खाते में पैसे क्रेडिट करता है। इसके विपरीत, शेयर खरीद के मामले में, यह आपके डीमैट खाते में शेयरों को क्रेडिट करता है और आपके बैंक खाते से पैसे डेबिट करता है।

Demat और trading account में अंतर :

डीमैट खाता एक ऐसा खाता है जो खाता धारक (निवेशक) को इलेक्ट्रॉनिक रूप में शेयरों और प्रतिभूतियों को संग्रहीत करने की अनुमति देता है। और ट्रेडिंग खाता एक ऐसा खाता है जिसके माध्यम से खाता धारक प्रतिभूतियों में व्यापार के लिए एक आदेश देता है। जब आप ये दोनों account एक Stock Broker के जरिये खुलवा लेते हैं तो आप उसके बाद से अपना हिस्सा खरीदने और बेचने का काम शुरू कर सकते हैं।

Market में invest करने से पहले आप इसके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी हासिल कर लें। इससे आपको बहुत ज्यादा मदद मिल जाएगा कि इसमें पैसे कैसे Invest करें।

आपको बहुत से ऐसे fraud मिल सकते हैं जो आपके पैसे खा जायेंगे। तो कहीं भी पैसे लगाने से पहले उस कंपनी के बारे पूरी जानकारी ले ले। Company की reputation और reliability जरूर जांच लें।

अब आपके मन एक सवाल ये आ रहा होगा की आखिर Invest करने के लिए कम से कम कितने पैसे लगाने होते हैं। शुरुआत में इसकी knowledge काफी नहीं होती। इसीलिए इस तरह के कई सवाल लोगों के मन में आते हैं। चलिए इसका जवाब भी हम जान लेते हैं।

मार्केट में Minimum Investment करने के लिए कोई नियम लागू नहीं है। ऐसी कोई limit नहीं दी गई है कि कम से कम आपको इतने पैसे लगाने ही पड़ेंगे।आप निवेश करने के लिए $1 कीमत वाले शेयर खरीद सकते हैं और maximum आप जितना पैसा लगाना चाहे उतने का stock खरीद सकते हैं।वैसे आपको बाजार में invest करने के लिए अच्छे Stock Broker का चुनना बहुत जरूरी है।

बाजार में trading करने के लिए Broker भी आपसे brokerage चार्ज भीलेते हैं तो उनके service और charge को ध्यान में रख कर ही उनका चुनाव करें।

ऑनलाइन शेयर कैसे ख़रीदते हैं?

हम ये पहले ही जान चुके हैं की स्टॉक खरीदने के लिए आपके पास Demat Account का होना बहुत जरुरी है। Demat Account बनाने के कई तरीके हैं।जिसमें से एक है Broker जिसकी मैंने ऊपर लिस्ट दे दी है।

share खरीदने के लिए हम पैसे जिस Account में रखते हैं वही Demat Account होता है। इसी के जरिये हमे खरीदी और बिक्री पर जब profit होता है तो profit का पैसा भी हमे इसी Account में मिलता है ये बिलकुल Bank Account के जैसा ही काम करता है।

हम जो आजकल Mobile Wallet का इस्तेमाल करते हैं ठीक उसी तरह ही DematAccount भी एक wallet है जो सिर्फ इसी उद्देश्य से खरीदने और बेचने के काम आता है।

जब भी खरीदना-बेचना चाहते हैं तो इसमें दूसरे वॉलेट के ही जैसे हमे अपने bank account से पैसे load करने पड़ते हैं. बेचने के बाद जो मुनाफा होता है वो हम वापस आपने Bank Account में transfer कर सकते हैं।

Demat Account बनाने का पहला तरीका तो मैंने पहले ही बता दिया है जो की एक Broker के माध्यम से खुलवाते हैं. और दूसरा तरीका ये है की आप आपका जिस भी बैंक में Saving अकाउंट है वहां से Demat Account खुलवा सकते हैं। Demat Acount खुलवाने के लिए आपके पास Saving Account का होना जरुरी है साथ ही Internet banking भी होना चाहिए।Demat Account के लिए necessary Documents.

शेयर खरीदने के कुछ महत्वपूर्ण टिप्स:

इस में पैसे लगाना एक जोखिम भरा काम है. लेकिन जोखिम तभी तक है जब तक आपके पास जानकारी नहीं होती. एक बार आप इसके बारे में अच्छी जानकारी ले लेते हैं तो आप को बस अपने दिमाग से ध्यान देकर काम करना है. कोई भी काम आपको जल्दबाजी में नहीं करनी चाहिए. Stock Market में ज्यादार लोग अपना पैसा गँवा देते हैं।

इसका कारण क्या है?

इसका कारण है लालच। आपने तो बचपन से ही सुना होगा की लालच बुरी बला है और इस प्लेटफार्म में ये बिलकुल fit बैठता है. पैसे निवेश करने से पहले वो कौन सी चीज़ें हैं जिन पर आपको ध्यान देना है.चलिए जानते हैं।

कुछ महत्वपूर्ण टिप्स.

Stock Market में निवेश करने के लिए बैंक एकाउंट, Demat एकाउंट, Trading एकाउंट का होना अनिवार्य है. Invest करने से पहले रिसर्च करें की जिस कंपनी के शेयर खरीदना चाहते हैं उस कंपनी की बिज़नेस कैसी है, परफॉरमेंस कैसी है. कंपनी की मैनेजमेंट अच्छी है या नहीं. उसके इतिहास की जानकारी भी ले लेना जरुरी है कि उस कंपनी का इतिहास कैसा रहा है।

समय समय पर उसमे कितना उतार चढ़ाव कैसा रहा है। कुल मिलाकर कहें तो आपको निवेश की जाने वाली कंपनी की हर जानकारी ले लेनी है उसके बाद ही उसके स्टॉक खरीदने चाहिए। Investors को अच्छे fundamentals वाली कंपनियों में ही पैसे लगाने चाहिए।

स्टॉक मार्केट में पैसे लगाने वाले लोगों को जिस बात पर सबसे ज्यादा कण्ट्रोल करना चाहिए वो है लालच। इसमें सबसे ज्यादा लालच करने वाले लोगों के ही पैसे डूबते हैं। इसमें काम करना है तो आपको सब्र के साथ काम करना पड़ेगा क्यूंकि कई ऐसे मौके आते हैं जब आपको लगता है की थोड़ा और कमा लेंगे तब स्टॉक बेचेंगे और इस चक्कर में अचानक इन के दाम कम भी होकर नुकसान हो जाता है।

नए लोगों के लिए सबसे बेहतर ऑप्शन ये है कि वो Long term investment करें। Market expert के अनुसार Long term ने हमेशा investors को अच्छा return दिया है। इसी वजह से आप भी Long term investment का नजरिया रखें।Investorsजब Target price पहुंच जाये।

भारत में कितने शेयर बाजार है? हम जो शेयर खरीदते हैं उसके लिए बीच में ब्रोकर का होना बहुत जरुरी है। एक ब्रोकर हमारे देश के 2 main stock exchange से जुड़े होते हैं। (BSE) Bombay Stock Exchange और (NSE) National Stock Exchange ये दोनों ही Share brokar stock exchange के सदस्य होते हैं। आपको पता है कि (BSE) पूरे विश्व की Ranking Index के Top 10 में 9वें rank पर आती है। आम जनता को बाजार में निवेश करने के लिए इन ब्रोकर के जरिये ही कर सकते हैं।

Stock Market से directly नहीं ख़रीदा जा सकता.जो भी investment का काम करते हैं वो NSE और BSE की हर गतिविधि पर नज़र रखते हैं और उसी के आधार पर स्टॉक की खरीद बिक्री करते हैं। आप निवेश बाजार की हर ताज़ा खबर के लिए Zee Business, CNBC और NDTV profit चैनल देख कर लाइव updates पा सकते हैं।

शेयर बाज़ार में शेयर कब खरीदें?

जितनी जानकारी हमने ऊपर आपको दी है उससेआपको थोडा बहुत idea मिल ही गया होगा के शेयर मार्केट क्या है। चलिए जान लेते हैं। कि शेयर मार्केट में पैसे Invest कैसे करें Stock Market में share खरीदने से पहले आप इस लाइन में पहले experience gain कर लें कि यहाँ कैसे और कब invest करना चाहिये और कैसी कंपनी में आप अपने पैसे लगायेंगे तब जा कर आपको मुनाफा होगा अन्यथा नहीं होगा।

इन सब चीजों का पता लगायें ज्ञान बटोरे उसके बाद ही जा कर share market में निवेश करें।Share market में कौन सी कंपनी का share बढ़ा या गिरा इसका पता लगाने के लिए आप economic times जैसे newspaper पढ़ सकते हैं या फिर NDTV Business न्यूज़ चैनल भी देख सकते हैं जहाँ से आपको Share Market की पूरी जानकारी मिल जाएगी। ये जगह बहुत ही risk से भरी हुयी होती है इसलिए यहाँ तभी निवेश करना चाहिये ।

शेयर मार्केट डाउन क्यूँ होता है?

अभी के समय में शेयर मार्किट डाउन होने के बहुत से कारण हैं. चलिए उन विषयों में जानते हैं।

1. जैसे की आपको शायद पता हो की किसी एक बड़े धरण के विपदा के कारण Share Market Down हो जाता है. वहीँ इस समय में coronavirus विपदा के कारण consumer behavior में बड़ा बदलाव देखा जाता है, वहीँ इससे businesses को काफ़ी नुकसान पहुंचता है, जिससे की short-term earnings के लिए अपने stocks को बेच देते हैं. वहीँ शेयर मार्किट में उतार चढ़ाव देखने को मिलता है।

2. इस Coronavirus Crisis का कोई भी सही solution अभी तक भी मेह्जुद नहीं है, जिससे की ये investor sentiment को भय पैदा करता है. वहीँ इससे Shares में भारी मात्रा में गिरावट देखने को मिलती है।

3. वहीँ जब foreign institutional investors, mainly ETFs के द्वारा जब selling की जाती है इस global risk aversion के दौरान, इससे Share Market में काफी गिरावट देखने को मिलती है. उन्होंने लगभग Rs 25,000 crore की Stocks को बेच दिया है भय के कारण इस March में।

शेयर मार्केट कैसे सीखे

सभी को जल्दी अमीर बनने का का बहुत ही ज्यादा शौक होता है. इसलिए शायद वो सभी ऐसे ही quick और easy तरीकों के तलाश में रहते हैं जो की उन्हें कम समय में अमीर बना दें और साथ में उनके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ लायें. ऐसे में सभी को Share Market ऐसा ही एक technique लगता है जहाँ से की वो कम समय में करोड़ों रूपए कमा सकते हैं. इसलिए वो अक्सर ऐसे Share Market Tips in hindi की तलाश में रहते हैं जो की जल्दी से इस्तमाल कर अमीर बन सकें. तो चलिए ऐसे ही कुछ share market tips के विषय में जानते हैं जिन्हें की सभी beginning investors को निश्चित रूप से जानना चाहिए।

1.अपने Risk Tolerance को समझें।

2.अपना रिसर्च खुद करें।

3.Research और Planning करें।

4.Long-Term Goals set करें।

5.अपने Emotions को control करें।

6.Basics को First clear करें।

7.अच्छी Companies के Shares पर अपना Investments करें।

8. धैर्य बनाए रखें।

शेयर मार्किट कब बढ़ता है और कब घटता है?

शेयर मार्किट के बढ़ने और घटने के पीछे जो मुख्य कारण हो वो होता है Demand और Supply की. Demand और Supply आपको Market में दो प्रकार के लोग देखने को मिलेंगे, लेकिन इन दोनों के मत अलग अलग होते हैं. कुछ लोग सोचते हैं की market बढेगा और वहीँ कुछ लोग सोचते हैं की Market घटेगा. इसे समझने के लिए दो चीज़ों को समझना बहुत ही आवश्यक होता है।

1. अगर demand बढ़ जाता है या exceed करता है supply को तब ऐसे में price या कीमत में बढ़ोतरी होती है।

शेयर बाजार में नुकसान से बचने के टिप्स:

स्टॉक मार्केट में investment करके लाभ कमाना हर कोई चाहता है पर इसमें इन्वेस्टमेंट करने से पहले सारे नियमों और सावधानियों के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त करके ही करनी चाहिए नहीं तो आपको नुकसान हो जाएगा। शेयर बाजार निवेशकों के लाभ कमाने की एक बहुत अच्छी जगह है पर निवेश करते हुए अगर कुछ सावधानियां अपनाई जाए, तनु या नुकसान के खतरे को दूर रखते हुए बहुत लाभकारी साबित हो सकता है। यहां छोटे निवेशकों के लिए शेयर में निवेश करने के कुछ लाभकारी टिप्स दिए जा रहे हैं।

लंबे समय के लिए पैसे लगाने से लाभ ज्यादा होती है

शेयर बाजार में investment करते हुए अक्सर कई छोटे निवेशक पैसे लगाते हुए बहुत घबराते हैं। कि कहीं बाजार में उतार चढ़ाव आने से पैसे डूब ना जाए। ऐसे में वे अक्सर बहुत थोड़े समय के लिए कैसे लगाते हैं कई निवेशक तो सुबह पैसे लगाते हैं और शाम को भेज देते हैं। ऐसे दिखाएं छोटे निवेशक करते हैं सुबह में शेयर खरीदते हैं और शाम तक उसकी बढ़ी हुई कीमत का लाभ लेकर उसे बेच देना उचित समझते हैं। इस तरह आप अपने निवेश पर थोड़ा बहुत लाभ जरूर कमा सकते हैं। पर बड़े लाभ के लिए आपको निवेश की अवधि लंबे रखनी होगी तब आपको अधिक लाभ होगा।

जब ट्रेडिंग के लिए प्रोफेशनल हायर करें:

कई निवेशक जानकारी या समय के अभाव में ट्रेडिंग के प्रोफेशनल्स की सुविधा लेते हैं। बाजार में बहुत सारे लोग ऐसे शेयर प्रोफेशनल्स मिल जाएंगे जो आपके पैसों को सही जगह निवेश करने की सेवा देते हैं और उसके बदले आप उन्हें कुछ फीस देते हैं। पर कई मामलों में देखा जाता है कि शेयर प्रोफेशनल्स निवेशकों की जानकारी और जागरुकता के अभाव में फायदा उठाते है। निवेशकों का पैसा वे अपने फायदे के लिए कई जगहों पर लगा देते हैं।

निवेशक को जहां 1 लाख का लाभ होता, वहां वे केवल 40 हजार का लाभ दिखा देते हैं। इसलिए बहुत जरूरी है कि ट्रेडिंग प्रोफेशनल्स को हायर कर आप निश्चिंत न हो जाएं। वे आपका पैसा कहां लगा रहे हैं, जिस कंपनी में आपका निवेश कर रहे हैं वह कंपनी कैसी है, बाजार में उसकी स्थिति कैसी है, बाजार के वर्तमान हालात क्या हैं यह सब पता करते रहे। इस तरह वे आपसे झूठ नहीं बोल पाएंगे

ये वो तथ्य हैं जो हर निवेशक को ध्यान ही रखना चाहिए, खासकर छोटे निवेशकों को। पर इसके अलावा भी कई ऐसी बातें हैं जो शेयर निवेशकों के लिए अति आवश्यक है। जैसे: शेयर के कुछ प्रोफेशनल्स टर्म्स की आपको जानकारी होनी चाहिए. शेयर बाजार आधार क्या है, यह कैसे काम करता है? शेयरों की खरीद-बिक्री के कुछ आधिकारिक नियम, बैलेंस-शीट देखने की प्रक्रिया आदि की जानकारी निवेशकों को रखनी चाहिए।

संक्षेप में

अगर आप ध्यान से इस पर काम करें तो बहुत कम समय अच्छे पैसे कमा सकते हैं. शेयर मार्केट में ऑनलाइन शेयर खरीदने से पहले किन बातों पर सबसे ज्यादा ध्यान रखना है ये भी आप समझ चुके हैं. आप बताये गए शेयर मार्केट टिप्स इन हिंदी को अगर अच्छे से follow करेंगे तो बिलकुल इस पर काम कर सकेंगे. आशा करती हूँ कि आप समझ ही गए होंगे कशेयर मार्केट क्या है (What is Share Market in Hindi) और शेयर कैसे खरीदते हैं?. आपने ये भी जाना की शेयर मार्किट से पैसे कैसे कमाए और इसके लिए क्या करना पड़ता है।

यदि आपको यह post शेयर मार्किट की जानकारी पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये।

Khushboo Guptahttps://untoldtruth.in/
Hii I'm Khushboo Gupta and I'm from UP ,I'm Article writer and write articles on new technology, news, Business, Economy etc. It is amazing for me to share my knowledge through my content to help curious minds.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

BEST DEALS